Skip to content

समय का महत्व हिंदी कहानी | Importance of Time in Hindi Story

Posted in Hindi Stories, and Moral Stories

Importance of Time in Hindi Story HindIndia images wallpapers
समय का महत्व और सदुपयोग

समय का महत्व हिंदी कहानी | Importance of Time in Hindi Story | समय के महत्व पर कहानी | Story on the importance of time in Hindi | समय का सदुपयोग हिंदी कहानी | Use of Time in Short Hindi Story

बहुत समय पहले की बात है, एक छोटे-से शहर में एक धनी व्यक्ति (rich man) रहता था। उसने अपना सारा जीवन पैसा कमाने में लगा दिया था और 20 साल के भीतर ही उसने खूब सारा धन (wealth) इकट्ठा कर लिया था।

उसके पास इतना पैसा था कि वह पूरे शहर को खरीद सकता था लेकिन अपने पूरे जीवन में उसने किसी की भी मदद (help) नहीं की। उसे अपने बैंक-बैलेंस पर बहुत ज्यादा घमंड था।

लेकिन उसने अपने पैसों को कभी भी अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए उपयोग नहीं किया, यहाँ तक कि उसने अपने कपड़े और खाने पर भी ठीक से उपयोग नहीं किया। उस अपना सारा जीवन बस पैसा (money) कमाने में लगा दिया।

वह पैसा कमाने में इतना ज्यादा व्यस्त हो गया था कि उसे इस चीज का भी एहसास (realize) नहीं हुआ कि अब वह बूढ़ा (old) हो गया है। अब उसका सारा जीवन बीत चुका था। उसने अपने परिवार के साथ कभी ख़ुशी का पल नहीं बिताया, कभी आनंद नहीं उठाया।

समय का महत्व हिंदी कहानी

समय का महत्व और सदुपयोग हिंदी कहानी

वह समय आ ही गया जब मृत्यु के देवता यमराज (Yamraj) ने रात में उसके दरवाजे पर दस्तक दी।

यमराज ने बोला – तुम्हारा समय समाप्त हो चुका है। अब तुम्हें मेरे साथ चलना होगा।

You can also read : जीवन में सबसे महत्वपूर्ण बात

आप ये कारण दे सकते है कि आपके पास समय नहीं था। लेकिन सच बात तो ये है, कि आप के पास उतना ही समय था। जितना कि मदर टेरेसा, महात्मा गांधी, धीरुभाई अम्बानी, और सचिन तेंदुलकर के पास था।

व्यक्ति ने उत्तर दिया – लेकिन मैंने अपना जीवन (life) अभी नहीं जिया है। मैं काम करने में व्यस्त था। मुझे अपनी संपत्ति का उपयोग करने के लिए कुछ समय चाहिए जो मैंने कठिन परिश्रम के माध्यम से वर्षों में जमा किया है।

यमराज ने कहा – नहीं, मैं तुम्हें और अधिक समय (time) नहीं दे सकता। यह सीमित है और लिखित समय को मैं अपनी मर्जी से बढ़ा नहीं सकता।

आदमी ने कहा – देखो, मेरे पास बहुत सारा धन है, मैं आपको अपने धन का आधा हिस्सा दूंगा, क्या आप मुझे एक वर्ष (1 year) और देंगे?

यमराज ने कहा – नहीं, यह संभव नहीं है।

समय का महत्व हिंदी कहानी

Importance of Time in Hindi Story

आदमी ने कहा – ठीक है, मैं आपको अपने धन का 80% दे दूँगा क्या आप मुझे कम से कम एक महीने देंगे?

यमराज ने कहा – नहीं।

You can also read : नरेन्द्र मोदी के प्रेरणादायक अनमोल विचार

आधुनिक युग की सबसे महत्वपूर्ण मशीन, रेल का इंजन नहीं बल्कि घड़ी है।

आदमी ने कहा – ठीक है, मैं आपको अपनी सारी संपत्ति (Property) दूंगा, बदले में मुझे एक घंटा मिल सकता है?

यमराज ने कहा – आप अपने धन के साथ समय नहीं खरीद सकते।

आखिरकार आदमी ने कहा – मुझे कुछ मिनट दे दो, मैं एक पत्र लिखना चाहता हूं। आप इसे मेरी अंतिम इच्छा के रूप में स्वीकार कर सकते हैं।

यमराज इस बात पर सहमत (agree) हो गए।

उस आदमी ने अपने शहर के लोगों को एक पत्र लिखा। अपने पत्र में उसने लिखा –

जो भी इस पत्र को कभी भी प्राप्त करता है, वह मेरे संदेश को दूसरों तक जरूर पहुंचाए। पूरे जीवन मैंने अमीर (rich) बनने के लिए वास्तव में कड़ी मेहनत की। आज मेरे पास बहुत सारा धन है लेकिन आज मैं अपने पूरे धन से अपने जीवन का एक घंटे भी उधार नहीं ले सका।

You can also read : नवाजुद्दीन सिद्दीकी की जीवनी, संघर्ष और सफलता की कहानी

जिन चीजों को मनुष्य ख़र्च करता है, उनमें समय सबसे मूल्यवान है।

इसलिए मैं सभी को यह बताना चाहता हूँ कि अपने समय और जीवन को महत्व (Importance) दें। वर्तमान में जियें। कड़ी मेहनत करना अच्छी बात है लेकिन कभी भी अपनी जिंदगी को जीना न भूलें। पैसे से समय को किसी भी कीमत पर नहीं ख़रीदा जा सकता। यह आपके अतीत को नहीं खरीद सकता है। जो समय बीत जाता है, वह कभी नहीं आएगा। समय कीमती (Precious) है, इसे बर्बाद मत करो।

जीवन भगवान का दिया हुआ एक खूबसूरत उपहार है इसे पूरी तरह से जीएं। दूसरों की मदद करें।

यह मेरे लिए कम से कम एक आंख खोलने वाली कहानी है। इसलिए मैंने सोचा कि क्यों न इसे अपने ब्लॉग पर साझा किया जाये ताकि दूसरे भी इसे पढ़ सकें और दूसरे लोगों को भी इस सच्चाई से रूबरू करा सकें।

आशा है कि आपने इस कहानी का आनंद उठाया होगा और इससे कुछ सीखा होगा। हमेशा खुश रहिये (be happy) और जिंदगी का मजा उठाईये।

Related Post

loading...

6 Comments

    • HindIndia
      HindIndia

      Thanks @Elvira Zone.

      September 17, 2017
      |Reply
  1. हलचल
    हलचल

    वास्तव में काबिले तारीफ काम है आपके।।

    September 17, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      ब्लॉग पर आने व हमें प्रोत्साहित करने के लिए सादर आभार हलचल जी

      September 17, 2017
      |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Thanks Harpreet ji. 🙂

      September 23, 2017
      |Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!




HindIndia