Skip to content

शुतुरमुर्ग | Shuturmurg – Ostrich Bird Information in Hindi Language

Posted in जानकारी | व्यवहार ज्ञान | Information in Hindi, and हिंदी कहानियां | Best Hindi Stories

Shuturmurg - Ostrich Information in Hindi : HindIndia
Shuturmurg – Ostrich Information in Hindi

शुतुरमुर्ग (Ostrich), वर्तमान का ऐसा सबसे बड़ा पक्षी है जिसकी गर्दन ऊँट की तरह लंबी होती है और ये बहुत तेज दौड़ता है। शुतुरमुर्ग (Shuturmurg) अब अफ्रीका का निवासी एक बड़ा और न उड़ने वाला पक्षी है। शुतुरमुर्ग पक्षिओं की सबसे बड़ी जीवित प्रजातियों मे से है और यह किसी भी अन्य जीवित पक्षी प्रजाति की तुलना में सबसे बड़े अंडे देता है।

शुतुरमुर्ग (Shuturmurg – Ostrich)

शुतुरमुर्ग की ऊंचाई 9 फीट तक होती है। वजन 155 किलोग्राम तक होता है। वह 75 साल तक जीवित रहता है। 70 किलोमीटर की रफ्तार से लगातार आधे घंटे तक दौड़ सकता है। रफ्तार के समय यह खुद को संतुलित रखने के लिए अपने 6 फीट लंबे पंख का इस्तेमाल करता है। इस कारण यह दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी कहलाता है। लंबे पैर और गर्दन वाला शुतुरमुर्ग मुख्य रूप से अफ्रीका में पाया जाता है। मेल शुतुरमुर्ग को रोस्टर और फीमेल को हेन कहते हैं। शुतुरमुर्ग के अंडों की बाहरी दीवार प्रायः चीनी मिट्टी के बर्तनों की दीवार की मोटाई के बराबर होती हैं और एक अंडे का वजन कभी कभी तीन पौण्ड से भी अधिक होता है।

शुतुरमुर्ग के अंडे (Shuturmurg Egg) को तोड़ने का यदि बाहरी प्रयास किया जाय तो उसके लिए छेनी, हथौड़ी और आरी की आवश्यकता पड़ेगी और इन सब साधनों के बावजूद इस प्रयास में सफलता के लिए दो घण्टे का कठोर श्रम करना पड़ेगा। इसके अंडे का आकार 6 इंच लंबा और 5 इंच चौड़ा होता है। यह साल में ऐसे 60 अंडे दे सकता है। इसके अंडे से 40 दिनों में चूजे बाहर आते हैं। एक अंडे का वजन 1.6 किलोग्राम तक होता है। शुतुरमुर्ग (Shuturmurg) का एक अंडा मुर्गी के 24 अंडे के बराबर होता है। पूर्ण विकसित होने पर नर शुतुरमुर्ग की लम्बाई (Length of Ostrich) 10 फुट तक और वजन (Ostrich Weight) 330 पौण्ड तक हो सकता है।

You can also read : Nawazuddin Siddiqui (नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी) – Watchman to Bollywood Star

शुतुरमुर्ग की विशेषता (Featuring Ostrich)

  • शुतुरमुर्ग घोड़े से अधिक तेज दौड़ सकता है।
  • सशक्त जंगली जानवरों से अपने पंजों द्वारा लोहा ले सकता है। उसकी और ही कितनी ही विशेषताएँ हैं, किन्तु आत्म रक्षा के संबंध में मूर्ख होने के कारण अपना आस्तित्व धीरे धीरे गँवाता जा रहा है।
  • जब भी शुतुरमुर्ग को अपने ऊपर हमले का आभास होता है तो वह अपने आकार और बल को भूल जाता है और अपन मुंह को रेत अंदर घुसा लेता है जिससे उसकी आँखें बंद हो जाती हैं और उसे हमलावर शत्रु दिखाई नहीं पड़ता है लेकिन वह सोचता है की उसकी अक्कलमंदी के कारण शत्रु उसे देख नहीं पा रहा है और वह शिकार हो जाता है।
  • शुतुरमुर्ग के लेदर, पंख, मीट और अंडों के उत्पाद का कारोबार किया जाता है।
  • इसके पंख और लेदर का इस्तेमाल फैशनेबल बैग, कपड़े आदि बनाने में किया जाता है।
  • इसका मीट रेड मीट माना जाता है और इस अंडे की भी काफी डिमांड है, जिस कारण अब भारत में भी इसकी फार्मिग होने लगी है।
  • शुतुरमुर्ग की नजर और सुनने की क्षमता बहुत अच्छी होती है।
  • शुतुरमुर्ग अपने पंखों की मदद से भागते समय शरीर का बेलेंस बनाते हैं।
  • ये झुंड में रहते हैं।
  • मादा ग्रे रंग की और नर काले रंग का होता है।
  • ये पेड़ की पत्तियां, बीज, फल से लेकर छिपकली जैसे छोटे जीव खाकर जिंदा रहते हैं।

सपने में शुतुरमुर्ग का दिखना (Shuturmurg : Ostrich in a dream)

  • स्वप्न में शुतुरमुर्ग का दिखना अकाल पड़ने का संकेत है।
  • स्वप्न में शुतुरमुर्ग के पर दिखना शुभ है। द्रष्टा को धन और विलास की प्राप्ति होती है।
  • यदि कोई स्वप्न में शुतुरमुर्ग का पीछा (If you follow Shuturmurg in a dream) करे तो द्रष्टा को कष्ट उठाना पड़ेगा।
  • यदि शुतुरमुर्ग द्वारा पीछा किये जाने का स्वप्न दिखे तो शत्रु से मुठभेड़ होगी जो आसानी से जीत जायेंगे।
  • शुतुरमुर्ग को गोली मारने का स्वप्न अच्छा नहीं, हानि का सूचक है।

Related Post

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!