Skip to content

Kids Story in Hindi with Moral | घमंड पतन का कारण है – हिंदी कहानी

Posted in Hindi Stories, and Moral Stories

Kids story in Hindi with moral HindIndia images wallpapers

Kids Story in Hindi | घमंड पतन का कारण है – हिंदी कहानी | Kids Story in Hindi with Moral | सागौन का पेड़ और जड़ी बूटी का पौधा – शिक्षाप्रद हिंदी कहानी | Teak tree and herb plant – Educative Hindi Story

एक बार की बात है, जंगल में एक सागौन का पेड़ (Teak tree) था जो कि बहुत ही घमंडी (proud) था। 😠 वह लंबा और मजबूत था। उसके सामने एक छोटा सा जड़ी-बूटी (Herb) का पौधा था। 🌻

एक बार सागौन के पेड़ ने कहा, “मैं बहुत सुंदर और मजबूत हूँ। कोई मुझे हरा नहीं सकता। “यह सुनकर, जड़ी बूटी ने उत्तर दिया,”प्रिय मित्र, इतना घमंड अच्छा नहीं है। कोई कितना भी मजबूत हो एक दिन वह गिर ही जाता है।”

सागौन के पेड़ ने जड़ी बूटी के शब्दों को नजरअंदाज (ignore) कर दिया। वह अपनी प्रशंसा (praise) में लगा रहा। वह जड़ी-बूटी के पौधे के सामने हमेशा अपनी बखान करता और जड़ी-बूटी को हमेशा नीचा (inferior) दिखाता।

जब कभी तेज हवा (wind) बहती सागौन का पेड़ दृढ़ता के साथ तन के खड़ा हो जाता और बारिश के समय ☁ अपने पत्तों को फैलाकर मजबूती के साथ खड़ा रहता। 🌴

इन दिनों के दौरान, जड़ी बूटी नीचे की तरफ झुक जाता। और इस बात पर सागौन जड़ी बूटी का खूब मज़ाक (taunt) उडाता। 😝

विनम्र बनो, साहसी बनो, शक्तिशाली बनो।

एक दिन, जंगल में तूफान (storm) आया। जड़ी बूटी नीचे की तरफ झुक गया। सागौन हमेशा की तरह इस बार भी झुकना नहीं चाहता था।

तूफान और तेजी से बढ़ता ही जा रहा था। सागौन इसे और सहन नहीं कर सकता था। उसने महसूस किया कि उसकी ताकत अब जवाब दे रही है।

उसने अपनी पूरी कोशिश की कि वह सीधे खड़े रहें, लेकिन अंत में, वह गिर गया। यह गर्व (proud) वृक्ष का अंत था।

जब सब कुछ फिर से शांत हो गया तो जड़ी बूटी सीधा खड़ा हुआ। उसने चारों ओर देखा। उसने देखा कि घमंडी सागौन गिर गया है।

शिक्षा | Moral

✍🏻 घमंड पतन का कारण है, विनम्र बनिये।

Related Post

15 Comments

  1. maine apke blog par . ye inspiring kahani padhi . . mujhe bahut hi achchhi lagi .. thank u or dhanyawaad .

    April 13, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      शाहबाज जी, आपको यह कहानी पसंद आई इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद और आभार। 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
  2. मजेदार कहानी 🙂 पढ़कर मजा अह गया

    April 15, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      हेमंत जी, आपको यह कहानी पसंद आई इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Thank you Abhinav ji. 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
  3. कहानी का moral पसंद आया.
    विनम्र बनो, साहसी बनो.

    April 16, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      बहुत-बहुत धन्यवाद और सादर आभार अनिल जी। 🙂 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
  4. बढ़िया शिक्षाप्रद कहानी।

    April 18, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      धन्यवाद ज्योति जी। 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
  5. vaah aapne kitna achha article publish kiya bahut achha laga padhkar sir

    April 22, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      अजय जी, आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा जानकर बेहद खुशी हुई। 🙂

      April 23, 2017
      |Reply
  6. Behtareen article like it. Thanks for sharing

    April 26, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Thanks a lot @Achhipost. 🙂

      April 27, 2017
      |Reply
  7. bhut he sunder article leekhte ha aap sir

    June 14, 2017
    |Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!




HindIndia