Skip to content

Success Tips in Hindi | अमीरों की सफलता के नियम हिंदी में

Posted in सेल्फ डेवलपमेंट | Self Development in Hindi

Success Tips in Hindi HindIndia images wallpapers

Success Tips in Hindi | अमीरों की सफलता के नियम | Law of Success of the Rich people in Hindi | जीवन में सफलता कैसे प्राप्त करें | How to get Success in Life in Hindi | Habits of Rich People in Hindi | अमीर लोगों की आदतें

सफलता (Success) का मतलब लक्ष्य है और बाकी सारी चीजें कमेंट्री हैं। सभी सफल लोग (Successful people) पूरी तरह लक्ष्य केंद्रित होते हैं। वे जानते हैं कि वे क्या चाहते हैं और उसे हासिल करने के लिए वे हर दिन अपना पूरा ध्यान उस पर केंद्रित करते हैं।

लक्ष्य तय करने की आपकी क्षमता ही सफलता (Success) की सबसे प्रमुख योग्यता है। लक्ष्य आपके सकारात्मक मस्तिष्क का ताला खोलते हैं और मंजिल तक पहुँचाने वाले मददगार विचारों तथा ऊर्जा को मुक्त करते हैं।

लक्ष्यों के बिना आप बस जिंदगी की लहरों पर डूबते-उतराते रहते हैं, जबकि लक्ष्य होने पर आप तीर की तरह उड़कर सीधे निशाने पर पहुँच जाते हैं।

सच तो यह है कि आपमें इतनी ज्यादा नैसर्गिक सम्भावना है कि उसका पूरा इस्तेमाल करने के लिए आपको शायद सौ से ज्यादा बार जन्म लेना पड़ेगा। आपने अब तक जो भी हासिल किया है, वह आपकी सच्ची संभावना का सिर्फ एक छोटा-सा अंश है।

You can also read : हर समस्या का समाधान

सफलता का एक नियम यह है : इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कहाँ से आ रहे हैं; फर्क तो इस बात से पड़ता है कि आप कहाँ जा रहे हैं। और आप कहाँ जा रहे हैं, यह सिर्फ आप और आपके विचार ही तय करते हैं।

स्पष्ट लक्ष्य होने पर आपका आत्मविश्वास बढ़ता है, आपकी क्षमता का विकास होता है और आपकी प्रेरणा का स्तर ऊँचा होता है। अगर एक लाइन में कहा जाये तो – “लक्ष्य उपलब्धि की अँगीठी का ईंधन है।”

सभी धर्मों, सभी दर्शनों, मेटाफिजिक्स, मनोविज्ञान और सफलता का महान सार यह है : आप जिसके बारे में ज्यादातर वक्त सोचते हैं, वही बन जाते हैं। आपका बाहरी जगत अंततः आपके आतंरिक जगत का प्रतिबिम्ब बन जाता है।

आपको वही प्रतिबिम्ब दिखता है, जिसके बारे में आप ज्यादातर समय सोचते हैं। आप जिसके बारे में भी सोचते हैं, वह लगातार आपकी जिंदगी में प्रकट होता है।

You can also read : जीवन में सबसे महत्वपूर्ण बात

कई हजार सफल लोगों (Successful people) से पूछा गया कि वे ज्यादातर समय किस चीज के बारे में सोचते हैं। सफल लोगों का सबसे आम जवाब यह था कि वे ज्यादातर वक्त अपनी मनचाही चीज और उसे पाने के बारे में सोचते हैं।

असफल और दुःखी लोग ज्यादातर वक्त अनचाही चीजों के बारे में सोचते और बातें करते हैं। वे अपनी समस्याओं और चिंताओं के बारे में बातचीत करते हैं तथा ज्यादातर समय दूसरों को दोष देते रहते हैं।

लेकिन सफल लोग अपने विचारों (ideas) और बातों को अपने सबसे प्रबल इच्छित लक्ष्यों पर केंद्रित रखते हैं। वे ज्यादातर वक़्त उस चीज के बारे में सोचते और बातें करते हैं, जिसे वे पाना चाहते हैं।

स्पष्ट लक्ष्यों (goals) के बिना जीना घने कोहरे में कार चलाने जैसा है। चाहे आपकी कार कितनी ही दमदार हो, चाहे इंजीनियरिंग कितनी ही बेहतरीन हो, आप धीमे-धीमे, झिझकते हुए कार चलाएँगे और बढ़िया से बढ़िया सड़क पर भी गति नहीं पकड़ पायेंगे।

You can also read : सफलता आपके कदमों में

लक्ष्य स्पष्ट करने से कोहरा तत्काल छँट जाता है और आपको अपनी योग्यताओं तथा ऊर्जाओं पर ध्यान केंद्रित करने (To Focus) और उनका इस्तेमाल करने का मौका मिल जाता है।

स्पष्ट लक्ष्य (Aim) आपको यह सामर्थ्य (Power) देते हैं कि आप अपनी जिंदगी के एक्सीलरेटर को दबा दें और उस सफलता (Success) की ओर तेजी से बढ़ें, जिसे आप वाकई हासिल करना चाहते हैं।

Related Post

loading...

10 Comments

  1. bahut hi badhiya tips diya hai… Aise hi tips dete rhe success pe
    Visit – Achhipost.com

    June 1, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      @Achhipost, Utsahvardhan ke liye bahut-bahut dhanyawad!! 🙂

      August 7, 2017
      |Reply
  2. Motivational posts ha sir app ki website per

    Thanks and keep it

    Regard’s

    Shilpa

    June 10, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Shilpa ji, Blog par aane wa apna vichar rakhne ke liye bahut-bahut dhanyawad!! 🙂

      August 7, 2017
      |Reply
  3. काफी उपयोगी टिप्स है इस पोस्ट में।

    July 14, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Dhanyawad ….. Mukesh ji. 🙂

      August 7, 2017
      |Reply
  4. पढ़कर काफी बढ़िया लगा।

    July 14, 2017
    |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Saadar Aabhar …… Mukesh ji. 🙂

      August 7, 2017
      |Reply
    • HindIndia
      HindIndia

      Thanks Yashdeep ji. 🙂

      August 7, 2017
      |Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!




HindIndia